बच्चों की फुट की सामान्य विकृतियां

1.सीटीईवी (कोंजेनिटल टेलिप्स एक्यूनो वेरुस) या क्लब फुट:

क्लबफुट मूल रूप से पैर की विकृति है जिसमें पंजा अंदर और नीचे की और घुमा हुआ होता है । यह बच्चों में पैर की सबसे आम विकृति है । इस विकृति वाले बच्चे जन्म के समय में घूमे हुए पैरों के साथ जन्म लेते हैं।

उपचार:

जन्म होने के तुरंत बाद इलाज शुरू हो जाना चाहिए, जितना जल्दी उपचार शुरू होता है सफलता की दर उतनी ही अच्छी होती है। ज्यादातर मामले सीरियल प्लास्टर कास्ट के साथ पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं। प्लास्टर साप्ताहिक बदल जाता है और पैर विकृति को सही करने में 5-7 कास्ट लगते है। सुधार के बाद पुनरावृत्ति को रोकने के लिए अगले तीन वर्षों के लिए विशेष जूते पहने जाते हैं। बच्चे जिनको देरी से उपचार के लिए लाया जाता है , उनमे सर्जरी की आवश्यकता पड़ती है ।

2. कोंजेनिटल वर्टिकल टेलस (सी वी टी):

इन बच्चो में ये जन्म से ही होता है और इनमे नार्मल कॉनकेव सोल की जगह कॉन्वेक्स सोल होता है ( पंजे का तलवा चपटा और मोटा होता है)। शुरुआती मामलों का कास्ट द्वारा इलाज किया जा सकता है लेकिन अधिकांश समय इन बच्चों को सुधार के लिए सर्जरी की अव्यश्कता होती है।